Friday, November 26, 2021

Communication Process & Kinds of Communication

DATA (Message):- Collection of Information is called Data. 

Communication Process :-  


Communication is the process of sharing our data (ideas, thoughts, and feelings) with other people with each other in commonly understable ways. 


संप्रेषण हमारे विचारों और भावनाओं को अन्य लोगों के साथ सामान्य रूप से समझने योग्य तरीके से साझा करने की प्रक्रिया है. 







 Sender :- जो Data को भेजता है , सेन्डर कहलाता है  


 Receiver :- जो Data को प्राप्त करता है , रिसिवर कहलाता है   


Message :- Collection of information (मौखिकप्रतीकात्मक या गैर-मौखिक जैसे शरीर के इशारेमौनसाँसआवाज़आदि या कोई अन्य संकेत )


Feedback : Feedback is reaction of reciever . It can be a verbal or nonverbal reaction or response. 


Kinds of Communication :-  

 

1) Verbal Communication (मौखिक संप्रेषण)


मौखिक कम्युनिकेशन भाषण (बोली) के माध्यम से जानकारी (Data) को साझा करना है।

जैसे -  रेडियो, टीवी, टेलीफोन, भाषण और साक्षात्कार पर सुनते हैं। 

 

2) Non-verbal Communication()

लिखित या बोले गए शब्द संदेश शेयर करने के लिए एकमात्र साधन नहीं हैं। गैर-मौखिक कम्युनिकेशन आंखों के संपर्क, मुद्राओं, इशारों, चेहरे की अभिव्यक्तियों, Chronemics (स्पर्श, शरीरीक मूवमेंट, स्वर-विज्ञान और स्‍पेस का उपयोग) और Haptics ( Haptics संपर्क को शामिल करने का कोई भी रूप है। के माध्यम से किया जाता है।

3) Written Communication

लिखित कम्युनिकेशन में उस तरह की इनफॉर्मेशन ट्रांसफर शामिल होता है जहाँ संदेश का एन्कोडिंग लिखित रूप में किया जाता है। संदेश केवल शब्दों में लिखा जा सकता है, या इसमें विभिन्न सिम्‍लब, या कभी-कभी मशीन कोड भी शामिल हो सकते हैं।

 Barriers :-

बाधाएं हैं जो कम्युनिकेशन प्रक्रिया में बाधा डालती हैं।

1) Personal barriers (व्यक्तिगत बाधाएं)  किसी के बोलने और लिखने की क्षमता से व्यक्तियों के बीच किया गया कम्युनिकेशन बहुत प्रभावित होता है।

2) Systemic barriersजब कम्युनिकेशन में इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल साधन शामिल होते हैं, तो मशीन और नेटवर्क त्रुटियां कम्युनिकेशन की प्रभावशीलता को प्रभावित कर सकती हैं।

No comments:

Post a Comment